2 फ़रवरी 2011

वरिष्‍ठ साहित्‍यकार रघुनाथ मिश्र को 'गीत चाँदनी निराला सम्‍मान

कोटा। शहर के जाने माने वरिष्ठ साहित्यकार और जनकवि श्री रघुनाथ मिश्र का हैदराबाद की प्रख्यात साहित्यिक संस्था‍ ‘गीत चाँदनी’ द्वारा वर्ष 2011 के लिए निराला सम्मान के लिए चयन किया है। यह सम्मान नगरद्वय सिकन्दराबाद-हैदराबाद के कवियों की संस्था ‘गीत चाँदनी’ द्वारा प्रतिवर्ष वसंत पंचमी पर उन साहित्‍यकारों को दिया जाता है जिन्होंने 60 वसंत देखे हों। इस वर्ष से इस संस्थान ने नगरद्वय के स्थान पर सम्पूर्ण भारतवर्ष से चुनिंदा कवियों को चुना है।
इस संदर्भ में श्री रघुनाथ मिश्र का चयन होने पर कोटा के जनवादी लेखक संघ परिवार में हर्ष की लहर दौड़ गयी। शहर के वरिष्ठ साहित्यकारों ने श्री मिश्र को बधाइयाँ दी। पूरे भारतवर्ष से श्री मिश्र को बधाइयों का ताँता लगा हुआ है। कोटा शहर जलेस इकाई अध्यक्ष ‘आकुल’ ने बताया कि श्री मिश्र 4 फरवरी को हैदराबाद के लिए रवाना हो रहे हैं। यह सम्मान उन्हें हैदराबाद में एक भव्य समारोह में 8फरवरी को दिया जायेगा। संस्था ‘गीत चाँदनी’द्वारा आमंत्रण पत्र श्री मिश्र को मिल चुका है और उन्होंने इसकी स्वीकृति भी भिजवा दी है।
हैदराबाद से प्रकाशित प्रख्यात साहित्यिक मासिक पत्रिका ‘गोलकोण्डा दर्पण’के सम्पादक श्री गोविन्द अक्षय ने श्री मिश्र को बताया कि समारोह में देश के अनेकों साहित्यकारों को सम्मा‍नित किया जा रहा है। इससे हैदराबाद में एक ही मंच पर साहित्यकार समागम का विहंगम दृश्य‍ देखने को मिलेगा। हैदराबाद इस समरोह का बेसब्री से इंतज़ार कर रहा है और संस्था गीत चाँदनी भी इसे भव्यता और उच्च स्‍तर पर आयोजन कर रही है। इस आयोजन पर शहर के सम्माननीय नागरिक, अधिकारी, प्रतिष्ठिति व्‍यक्तियों, उद्यमी-व्यवसायियों और कवियों-साहित्यकारों में बेहद उत्साह है।
साहित्य‍कारों को प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिह्न, शाल व पुष्प दे कर सम्मानित किया जायेगा। साहित्यकारों व कवियों का लाभ लेने हेतु एक अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का भी आयोजन किया गया है। यह कवि सम्मेलन हैदराबाद के राजस्थानी स्नातक भवन आबिड्स, हैदराबाद में आयोजित किया जायेगा। श्री मिश्र गीत चाँदनी निराला सम्मान पाने वाले कोटा के पहले वरिष्ठ साहित्यकार हैं। श्री मिश्र हैदराबाद की अपनी यात्रा से 11 फरवरी को कोटा लौटेंगे और अपनी या्त्रा के अपने अविस्‍मरणीय क्षणों का जलेस बैठक में वर्णन करेंगे। सान्निध्‍य ब्‍लॉग पर उनका यात्रा वृत्‍तांत सचित्र प्रकाशित किया जायेगा।

2 टिप्‍पणियां:

  1. आदरणीय रघुनाथ जी, पूरी रिपोर्ट पढ़कर मज़ा आ गया। आप ऐसे सम्मानों के लिए सही व्यक्ति हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुन्दर ढंग से समाचार प्रस्तुत किया है आपने. बधाई स्वीकारें- अवनीश सिंह चौहान

    उत्तर देंहटाएं